Introverts

क्या अंतर्मुखी होना अभिशाप है ?  जो लोग सीधे होते हैं वो ‘बेचारे’ क्यों होते हैं ? ‘ कितना सीधा है बेचारा ‘ सुनकर क्रोध आता है | ‘बेचारा’ क्यों कहा जाता है इन्हें ? लोग कितनी  आसानी से हमें कम आत्मविश्वासी समझने लगते हैं, मानने लगते हैं | उन्हे लगता है कि अंतर्मुखी लोग (Introverts) दुनिया के तौर- तरीके नहीं जानते | उन्हे लगता है कि इस दुनिया में फ़िट नहीं बैठते हम सब इन्ट्रोवर्टस | पर वे जान लें की हम ,’आपके’ तौर-तरीकों में एडजस्ट होने नहीं, दुनिया में अपनी अलग जगह बनाने आए हैं |  बस हमें अपना आत्मविश्वास मज़बूत बनाए रखना ज़रूरी है |

#कुछ_विचार

Advertisements

1 Comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s